The Tiger State News Portal

प्रदेश में जरूरतमंद, बेसहारा, अनाथ बच्‍चों और भिक्षावृत्ति में फसें बच्‍चों के उत्‍थान के लिए वर्ष 2012 से समेकित बाल संरक्षण योजना चलाई जा रही है। किशोर न्याय अधिनियम के तहत चलाई जो रहे किशोर न्याय बोर्ड, बाल कल्याण समितियां एवं परिवीक्षा इकाईयों, मुख्यमंत्री बाल आशीर्वाद योजना, कोविड-19 महामारी में अनाथ हुए बच्‍चों को सहायता उनका पोषण देखभाल, अनाथ बेसहारा बच्‍चों को त्‍वरित सहायता, भिक्षावृत्ति में फसे बच्‍चों का चिन्‍हांकन और उनका पुर्नवास सहित सारे काम का दायित्‍व समेकित बाल-संरक्षण योजना “मिशन वात्सल्य” में स्वीकृत 667 संविदा पदों में से कार्यरत लगभग 340 अधिकारीयों/ कर्मचारियों के कंधों पर है। इतने महत्‍वपूर्ण और संवदेनशील कार्य को पूर्ण जिम्‍मेदारी से निभाने वाले इन अनुभवी कर्मियों को विभाग की उदासीनता के कारण श्रम विभाग के मापदं‍डो से भी कम वेतन पर करना पड़ रहा है। श्रम अधिनियमों के अनुसार कुशल श्रमिक को 11885 रूपये महिना प्राप्‍त होना चाहिए। महिला बाल विकास की इस योजना में स्‍वीकृत पदों पर 10 वर्ष से अधिक समय से कार्य कर रहे अनुभवि डाटाएन्‍ट्री ऑपरेटर, आउटरीच कार्यकर्ता 8000 और 9000 रूपये महिने में कार्य कर रहे है। सामान्‍य प्रशासन विभाग के आदेश वर्ष 2018 के अनुसार सविंदा अधिकारियों एवं कर्मचारियों को नियमित पद के मूल वेतन का 90 वेतन दिया जाना था  किन्‍तु इनके वेतन में वर्ष 2014 के बाद से कोई बढोत्‍तरी नही की। और तो विभाग ने मंत्रिपरिषद के निर्णय दिनांक 16.05.2023 को भी नकारते हुए सालाना 3 प्रतिशत वेतन वृद्धि नही दी। इन कर्मचारियों को भविष्‍य निधि की सुविधा से भी वंचित रखा गया है। ये भारी लापरहवाही है। संविदा पदों पर कार्य करने वाले ये कर्मि सरकार के इस रवैया से अक्रोशित है। वर्तमान में मुख्‍यमंत्री जी की घोषणा पर भी इनको संशय है कि विभाग इसे लागू शायद ही करें। 9-10 साल से एक वेतन पर कार्य करना बहुत ही दु:खद है।

वर्तमान में संविदा के पदों की नियमित पदों से समकक्षता का निर्धारण के संबंध में विभाग द्वारा कोताही बरती जा रही है। मध्‍य प्रदेश शासन महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा अपने आदेश दिनांक 06.11.2015 में इन कर्मचारियों को यात्रा भत्‍ता देने के लिए नियमित पद के समकक्ष स्‍वीकृति पदान कि गई जिसके अनुसार इनका वेतन इस प्रकार होना चाहिए

कर्मचारियों के पद

नियमित पद के समकक्ष  ग्रेड पे

वर्ष 2018 के आदेश  अनुसार 90 प्रतिशत

संविदा वेतन

निर्वाह खर्च सूंचकांक एवं वेतनवृद्धि उपरांत वर्तमान वेतन जो प्रापत होना चाहिए

प्राप्‍त वेतन

विधि एव परिवीक्षा अधिकारी,

बाल सरंक्षण अधिकारी

42700

38430

48521

 

21000

परामर्श दाता

सामाजिक कार्यकर्ता

आंकड़ा विश्‍लेषक

लेखापल 

25300

22770

28660

14000

डाटा एन्‍ट्री ऑपरेटर  

19500

17550

22158

9000

आउटरीच कार्यकर्ता

19500

17550

22158

 

8000

    समेकित बाल संरक्षण योजना में काम करने वाले सभी कर्मचारियों ने सरकार से गुजारिश की है इनके साथ न्‍याय किया जायें तथा इनको कम से कम सम्‍मानजनक वेतन दिया जाये जिससे इनके परिवार का पालन पोषण कर सकें।

Facebook
Twitter
WhatsApp

3 Responses

  1. वात्सल्य मिशन( समेकित बाल सरंक्षण योजना ) की स्तिथि बहुत दयनीय है सभी कर्मचारी बहुत मेहनत और जी जान से जिला अधिकारी के द्वारा दिए समस्त कार्य कर रहे हैं शायद नियमित कर्मचारियों से भी ज्यादा पर पिछले वर्षों में संविदा कर्मचारियों के लिए जीतनी भी घोषणा हुई हैं सिर्फ मिशन वात्सल्य के कर्मचारियों को छोड़कर लागू की गयीं | मामा शिवराज जी से अनुरोध है कि इस बार नयी संविदा नीति 2023 का लाभ हमें मिले हमारी दुआएं आपके साथ रहेंगी

  2. मामा जी से निवेदन है कि अब तो मानदेय बढ़ा दीजिए बहुत समय हो गया धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

श्री गौरीशंकर बिसेन और श्री राजेंद्र शुक्ल को मंत्री एवं श्री राहुल सिंह लोधी को राज्य मंत्री के पद और गोपनीयता की शपथ ली l

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने राज्य मंत्रि-मण्डल के नवनियुक्त मंत्रियों को आज राजभवन में शपथ दिलाई। राज्यपाल श्री पटेल ने श्री गौरीशंकर बिसेन और श्री

Read More »

मंत्रि परिषद निर्णय- पुलिस कर्मी, जिला एवं जनपद सदस्‍यों के मानदेय, पेंशनरों के डीआर में बड़ा इजाफा।

पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों के भत्तों में वृद्धि – यात्रा के लिए 15 लीटर पेट्रोल पौष्टिक आहार भत्ते की राशि 650 रूपये प्रतिमाह से बढ़ाकर

Read More »

मध्यप्रदेश पटवारी भर्ती परीक्षा 2023 जांच के संबंध में नवीन निर्देश

जांच कार्यालय ग्रुप -2, सबग्रुप-4 एवं पटवारी भर्ती परीक्षा आर. आर.एन.एम.यू. द्वितीय तल, वाल्मी परिसर, कलियासोत डैम के पास, मध्यप्रदेश, भोपाल द्वारा मध्यप्रदेश कर्मचारी चयन

Read More »

पुलिस भर्ती परीक्षा 2023 रीवा और बालाघाट में 2 एफआईआर दर्ज।

म.प्र. कर्मचारी चयन मण्डल, भोपाल द्वारा पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा -2023 का आयोजन दिनांक 12/08/2023 से किया जा रहा है। अब तक कुल 1,68,112 अभ्यर्थियों

Read More »