The Tiger State News Portal

बहुत पहले की बात है, यूनान में एक महान विचारक थे जिन्हें आरिस्टॉटल कहा जाता था। उनके समय में, मित्रता को एक अनमोल गुण माना जाता था जो मानवता के अस्तित्व का एक महत्वपूर्ण पहलू था। आरिस्टॉटल ने मित्रता को दिलचस्पी से अध्ययन किया और इसे समाज के लिए महत्वपूर्ण दायित्व माना।

यूनानी काल में, एक खास दिन को मित्रता के अवसर पर याद करने के लिए मनाया जाता था, जिसे “फ्रेन्डशिप डे” कहा जाता था। यह दिन मित्रता की मिसाल बनता था, जिसमें लोग अपने प्रियजनों और मित्रों को उपहार देते थे और एक-दूसरे के साथ प्यार और समर्थन का इजहार करते थे।

धीरे-धीरे यह परंपरा अन्य देशों में भी प्रसारित होती गई और मित्रता का अभियान विश्वभर मशहूर हो गया। इसी उत्साह के साथ, इंडिया में भी मित्रता के अवसर पर फ्रेंडशिप डे को मनाने की परंपरा आरम्भ हुई।

भारत में मित्रता दिवस के अवसर पर लोग अपने मित्रों को उपहार देते हैं, उन्हें दिल से बधाई देते हैं और उनके साथ विशेष समय बिताते हैं। यह दिन मित्रता को मजबूत करने, नई मित्रताओं को बनाने और विशेष रिश्तों को समझौते का एक अच्छा मौका है।

मित्रता दिवस के माध्यम से हम सभी यह याद करते हैं कि मित्रता एक मानवीय रिश्ता है जो आपसी समझदारी, समर्थन और प्रेम पर आधारित है। यह हमें दूसरों के साथ सभी संबंधों का सम्मान करने की प्रेरणा देता है और एक खुशहाल और समृद्ध जीवन जीने के लिए मदद करता है। इस विशेष दिन को मनाकर हम सभी अपने मित्रों को समर्थन देने और प्यार भेजने का अवसर प्राप्त करते हैं, जिससे हमारे जीवन को खुशी और आनंद से भर जाता है।

Facebook
Twitter
WhatsApp